What is synchronization means in hindi-सिंक्रोनाइजेशन क्या होता है?

What is synchronization means in hindi-सिंक्रोनाइजेशन क्या होता है?

इस आर्टिकल पोस्ट में हम देखेंगे सिंक्रोनाइजेशन क्या होता है,क्लॉक का इस्तेमाल कैसे किया जाता है तथा साथी हम देखेंगे डिसटीब्युटेड सिस्टम में सिंक्रोनाइजेशन की मदद से कैसे हैं सिस्टम को सटीक रख सकते हैं.Visitsite

सिंक्रोनाइजेशन क्या होता है?
Distributed सिस्टम सिंक्रोनाइजेशन क्या है?

डिस्ट्रीब्यूट सिस्टम में सिंक्रोनाइजेशन क्या होता है (Synchronization in Distributed System)

Distributed system यह कलेक्शन होता है कंप्यूटर का जो हाई स्पीड कम्युनिकेशन नेटवर्क द्वारा connected होते हैं।

Distributed सिस्टम में हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर कंपोनेंट कम्युनिकेट और कोऑर्डिनेट करते हैं मैसेज पासिंग की मदद से।

Distributed सिस्टम में सभी node रिसोर्स शेयर कर सकते हैं दूसरे nodes के साथ। इसी कारण हमें जरूरत पड़ती है resources की proper allocation की तथा कोऑर्डिनेटर की मदद करने अलग-अलग प्रोसेसेस के बीच में।
यह सभी चीजों से बचाव के लिए हम distributed सिस्टम में सिंक्रोनाइजेशन यूज करते हैं जोकि प्राप्त किया जाता है क्लॉक की मदद से।
फिजिकल क्लॉक यूज किया जाता है टाइम node को एडजस्ट करने के लिए। सभी nodes सिस्टम में शेयर कर सकते हैं उनका लोकल टाइम दूसरे node के साथ।

टाइम सेट किया जाता है UTC(Universal Time Coordination)के हिसाब से। UTC रेफर किया जाता है टाइमक्लॉक के हिसाब से सभी nodes के लिए सिस्टम में।

क्लॉक सिंक्रोनाइजेशन achieve किया जाता है 2 तरीके से:
एक्सटर्नल तथा इंटरनल क्लॉक सिंक्रोनाइजेशन

1.External clock synchronization

वह है जिसमें एक एक्सटर्नल रेफरेंस clock मौजूद होता है।
यह एक रेफरेंस की तरह यूज किया जाता है तथा सिस्टम के nodes सेट तथा एडजस्ट किये जा सकते हैं उनके टाइम के according.

2.Internal clock synchronization

वह है जिसमें सभी nodes शेयर करते हैं उनका टाइम दूसरे nodes के साथ तथा सभी nodes सेट कर सकते हैं उनका टाइम accordingly.

दो तरह के clock सिंक्रोनाइजेशन एल्गोरिदम होते है:
Synchronization algorithm:सेंट्रलाइज(Centralized) तथा डिस्ट्रीब्यूट(Distributed)

1.सेंट्रलाइज वह है जिसमें टाइम सर्वर को यूज किया जाता है रेफरेंस की तरह।सिंगल टाइम्स server propogate करता है अपना टाइम nodesके लिए तथा सभी nodes एडजस्ट करते टाइम को अकॉर्डिंग।

2.Distributedवह है जिसमें सेंट्रलाइज्ड कोई टाइम server मौजूद नहीं होता।बावजूद इसके nodes एडजस्ट करते हैं उनका टाइम लोकल टाइम की मदद से।

DISCLAIMER:
इस पोस्ट का उद्देश्य है कि आपको इस Article के प्रश्नों के सटीक एवं सरल उत्तर प्रदान किए जाएं।यदि आप परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो आप अधिक जानकारी के लिए दूसरे किताबों की भी सहायता ले सकते हैं।

Leave a Comment