Various classification of Embedded system?क्लासिफिकेशन क्या है एंबेडेड सिस्टम के?

Various classification of Embedded system/क्लासिफिकेशन क्या है एंबेडेड सिस्टम के
एंबेडेड सिस्टम के परफॉर्मेंस के आधार पर इसे तीन category में divide गया है।

Table of Contents

• Small scale embedded systems/स्मॉल स्केल एंबेडेड सिस्टम

• Medium scale embedded systems/मीडियम स्केल एंबेडेड सिस्टम

• Sophisticated embedded systems/सोफिस्टिकेटेड एंबेडेड सिस्टम

1.Small scale embedded systems/स्मॉल स्केल एंबेडेड सिस्टम

  1. सिस्टम जो डिजाइन किए जाते हैं 8-bit microcontroller का यूज करके जैसे कि 8051 या 16-bit microcontroller जैसे कि 80196 यह सभी category इस एंबेडेड सिस्टम मैं आते हैं जोकि है स्मॉल स्केल एंबेडेड सिस्टम।

  2. हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर की complexity इस सिस्टम में काफी low होती है।

  3. पावर consumption यह भी कोई issue नहीं है एंबेडेड सिस्टम और ज्यादातर यह battery operated होते हैं।

  4. कोडिंग काफी simple होती है और यह embedded ‘C’में की जाती है।और यहां मेमोरी की size भी बहुत छोटी होती है जिस कारण ध्यान रखना होता है कि सॉफ्टवेयर ज्यादा huge ना हो।

  5. ऐसे सिस्टम का उदाहरण ले तो Simple temprature measurement embedded system,robiotic arm controller.

2.Medium scale embedded systems/मीडियम स्केल एंबेडेड सिस्टम

  1. सिस्टम जो कि डिजाइन किए जाते हैं 16-bit से 32-bit microcontroller की मदद से, वह सारे इसी category में आते हैं।

  2. हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर की complexity यहां बेहद high होती हैं।

  3. RTOS(Real Time Operating System) use किया जाता है ऐसे सिस्टम में।ऐसे सिस्टम काम में ला सकते हैं ASSPप्रोसेसर को implementation के लिए।

  4. मीडियम स्केल के एग्जांपल देखे तो एंबेडेड सिस्टम्स राउटर से नेटवर्किंग के लिए,ATM इत्यादि।

3.Sophisticated embedded systems/सोफिस्टिकेटेड एंबेडेड सिस्टम

  1. यह सिस्टम में high end माइक्रोकंट्रोलर होते हैं।

  2. हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर की कंपलेक्सिटी काफी high होती है।

  3. Design करने के लिए जो टूल्स की आवश्यकता होती है वह भी बहुत complicated और costly होते है।

  4. गैस सिस्टम यूज करते हैं RTOS तथा complicated time bound applications का।

  5. यह सिस्टम यूज किए जाते हैं cutting edge application जैसे कि स्मार्टफोन और मल्टीमीडिया के लिए।

Leave a Comment