pariyo wali kahani-पंख || pariyo ki kahaniya,hindi story2020

pariyo wali kahani-पंख || pariyo ki kahaniya,hindi story2020

                             परियों की कहानी

एक समय की बात है रत्ना और मुक्ता नाम की दो परियां थी. दोनों ने पृथ्वी की सैर करने की सोची.जब वे उत्तरी तो पृथ्वी का सौंदर्य देखकर मुग्ध रह गई. कल-कल बहता पानी.हरे-भरे जंगल,अति सुंदर नजारा था.दोनों ने सोचा कि स्नान कर लिया जाए दोनों ने पंख उतारे और झरने के साथ पानी में नहाने लगी.खास बात यह थी कि परियों के वस्त्र नहीं भीगते थे जबकि उनके पंख भीग जाते थे.pariyo wali kahani-पंख

                 इसलिए उन्होंने पंखों को पेड़ पर टांग दिया. इतने में वहां दो शैतान बच्चे चिंटू और मिंटू पहुंचे.उन्होंने परियों के पंख देखें और उसे उठाकर ले गए.परियां बाहर आई तो पंख ना पाकर परेशान हो गई दोनों ने सोचा पंख खोजे कैसे.इतने में ध्यान आया कि उनके पंखो से भीनी भीनी खुशबू भी आती है. इसी खुशबू के सहारे वे बच्चों के घर तक पहुंच गई. वहां उनकी मां से मिली.pariyo wali kahani-पंख

                   मां ने परियों को खीर बनाकर खिलाई.परियों ने थोड़ा सा खीर टिफिन में रख लिया.फिर वे चिंटू मिंटू को खोजते हुए पहुंची.उसने कहा कि यह जादुई खीर है. दोनों बच्चे खीर खाने में व्यस्त हो गए और परिया पंख लेकर फुर्र हो गई.pari

 

1.कहानी-लोभ का अंत

2.कहानी- शेर और कुत्ता

3.कहानी-बंटवारे का फेर 

4.कहानी-आदर करना सीखो

5.कहानी-कुएं का विवाह

6.कहानी-मेल जोल का फल

7.कहानीसोने की हांडी

8.कहानी-बरगद का घमंड

9.कहानी-किसका आदर

10.कहानी-शरारती बच्चा

 

Leave a Comment