kahani hindi kahani-लालच का फल New kahani

kahani hindi kahani-लालच का फल New kahani.

Aajki kahani hai lalach ka faal ke upar kahani hindi kahani jisme hai ek sikari jo sikar karke peth palta hai….

कहानी
लालच का फल

चाल नगर में एक शिकारी रहता था. वह प्रतिदिन धनुष बाण लेकर वन में शिकार के लिए जाता था और जंगली जानवरों का शिकार करता था. यही उसकी आजीविका का साधन था. हमेशा की तरह उसने एक मृग का शिकार किया. शिकारी उसे अपने कंधे पर लाद कर अपने घर की ओर चल पड़ा. उसने अभी आधा रास्ता ही पार किया था कि एक जंगली सूअर ने उस पर आक्रमण किया. जैसे तैसे शिकारी ने उसका सामना किया और उसे अपने तीर से उस सूअर को मार गिराया. परंतु इस लड़ाई में वह भी भीषण रूप से घायल हो गया और अतः उसके भी प्राण पखेरू वही उड़ गए.

संयोग से उसी समय एक गीदड़ निकला. मार्ग में तीन ताजी लाशें देखकर उसका मन प्रसन्नता से भर गया. वह मन ही मन प्रसन्न होकर सोचने लगा इतना सारा भोजन एक साथ. अब तो तीन-चार माह तक भोजन की चिंता से छुटकारा मिल गया. उसका लालच कम नहीं हुआ. वह सोचने लगा इस भरपूर भोजन को आराम से महीनों तक धीरे-धीरे हिसाब से ही खाएंगा. कुछ देर बाद उसने धनुष की खींची हुई चमड़े की प्रत्यंचा को खाना शुरू किया. जैसे ही प्रत्यंचा का कुछ हिस्सा उसने खाया.अचानक प्रत्यंचा नाजुक होकर तेजी से छूटा गया और धनुष की नोंक उसके जिगर में घुस गई.

वह भी तड़प तड़प कर वही मर गया जो लोग अधिक जमा करने के लालच में अपना बुद्धि खो देते हैं वे उसका उपभोग तो कर ही नहीं पाते हैं.

Aur bhi aise hindi story ke liye niche humne apke liye hindi stories ki list taiyar ki hai usse jarur padhe aur hindiforu ko jarur visit kare.

1. Gadhe ki kahani

2. Sacha dost

3. Sher aur chuha

4. Lomdi aur angur ki kahani

5. jadui takiya

6. kisan ki kahani

7. jadu ki kahani

Leave a Comment